सरकार करोड़ों रुपए खर्च करके पर्यावरण को बढावा दे रही है , वही खुलेआम लकड़ी काटी जा रही है


मलिहाबाद- (लखनऊ) | 


सरकार करोड़ों रुपए खर्च करके पर्यावरण को बढावा दे रही है वही खुलेआम लकड़ी काटी जा रही है | कुछ ऐसा ही मलिहाबाद थाना क्षेत्र के अतर्गत बड़ीगढी लालगंज में हुआ जहाँ बिना किसी की रोक टोक के सागौन के सात पेड़ काट दिए गए | वही वन रक्षक के संरक्षण मे कुछ माफिया सुबह सागौन के पेड़ो को काट कर उन्हें ठिकाने लगा रहे थे | सूचना मिलने के बाद भी वन रक्षक विभाग जाँच के लिये पीछे हट जाता है | कही ऐसा तो नहीं की पुलिस भी माफिया के साथ इस कार्य में शामिल है |  


वहीं पर जब पत्रकार मनीष यादव की बात इस मामले में सुरेश और सुन्नी ठेकेदार से इस मामले में हुई , तो लकड़ी माफिया ने मनीष को जान से मरने की धमकी दी | वन रक्षक बाग के परमीशन से पेड़ो की कटाई होती है | अब ऐसे में ये तो पता नहीं कि वन बिभाग के अधिकारी कितने पेड़ो को काटने के परमीशन देते है | ऐसे मे तो यही लगता है वन विभाग भी लकड़ी की कटाई को रोक पाने मे नाकाम है |