पहचाने गए JNU में मारपीट करने वाले नकाबपोश ,दिल्ली पुलिस ने दर्ज की एफआईआर


नई दिल्ली


दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में रविवार रात छात्रों पर नकाबपोशों के हमले के बाद घिरी दिल्ली पुलिस अब ऐक्शन में है।पुलिस ने सोमवार सुबह अज्ञात लोगों के खिलाफ दंगा भड़काने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का केस दर्ज कर लिया। पुलिस के मुताबिक उसे मारपीट को लेकर कई शिकायतें मिली हैं। पुलिस कुछ नकाबपोशों को पहचान लिए जाने का भी दावा कर रही है। गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल और दिल्ली पुलिस कमिश्नर से बात कर हिंसा पर तत्काल रिपोर्ट मांगी है। इसी बीच हमले घायल होने के बाद एम्स में भर्ती किए छात्र-छात्राओं को डिस्चार्ज कर दिया गया है। बता दें कि इस हमले में 25 से ज्यादा घायल हुए थे।


जेएनयू में पिछले कई दिनों से फीस बढ़ोतरी का मुद्दा गर्माया हुआ है। रविवार रात कुछ नकाबपोश बदमाशों ने छात्रों और शिक्षकों को बुरी तरह पीट दिया था और कैंपस में तोड़फोड़ की थी। इस मामले में जेएनयू के वामपंथी छात्र संगठन और आरएसएस समर्थित एबीवीपी एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। दोनों ही गुट खुद को पीड़ित बता रहे हैं। हालांकि किसी भी एक गुट के हत्थे, कोई ऐसा नकाबपोश नहीं चढ़ा है, जो हिंसा में शामिल रहा है। नेताओं का कहना है कि वह पिटाई के बीच भागने में शामिल थे और उन्होंने आरोपी को पकड़ने के बजाए खुद को बचाने में तेजी दिखाई।


पहचाने गए JNU में मारपीट करने वाले नकाबपोश?


ये नकाबपोश आखिर थे कौन, पुलिस इसकी अब इसकी जांच में जुट गई है। कई शिकायतों के बाद पुलिस ने सोमवार सुबह पूरे मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है और उन नकाबपोशों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है। डीसीपी देवेंद्र आर्य ने बताया कि पुलिस ने रात में इलाके में फ्लैग मार्च करके हालात को काबू करने की कोशिश की, वहीं वसंत कुंज नॉर्थ पुलिस के पास कई शिकायतें मिली हैं, जिसकी जांच की जा रही है।

सुबह तक पुलिस कैंपस में शांति स्थापित करने में जुटी हुई थी, जिसके बाद जांच की जा रही है। वहीं हिंसा की पूरी जांच जॉइंट सीपी वेस्टर्न रेंज शालिनी सिंह को सौंप दी गई है, जिससे जांच की निष्पक्षता बनी रहे। पुलिस का कहना है कि सोमवार सुबह पुलिस ने दंगे की धाराओं में एफआईआर दर्ज की है, हालांकि अभी आरोपी को नहीं पकड़ा गया है। पुलिस का यह भी कहना है कि कुछ लोगों की पहचान कर ली गई है, लेकिन अभी उनके बारे में कोई जानकारी नहीं दी जा सकती।