अमेठी -फल-फूल रहा कच्ची शराब का कारोबार


अमेठी।


हरिकेश यादव - सवांददाता (इंडेविन टाइम्स)



  • पूर्व में हुई छापामारी अनेकों  को किया जा चुका कच्ची शराब के साथ गिरफ्तार 


शुकुल बाजार अमेठी क्षेत्र में अवैध कच्ची शराब का बनाने व बेचने का कारोबार लघु उद्योग की तरह से पनपता जा रहा है। इस कारोबार में पुरुषों के साथ ही महिलाओं  भी कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है। इसका अंदाजा पूर्व में हुई छापामार कार्रवाई के दौरान अवैध कच्ची शराब के साथ पकड़े गए लोगों से लगाया जा सकता है। इसके बाद भी आबकारी महकमे के जिम्मेदार इस ओर ध्यान देने को तैयार नहीं है।


जिसके चलते अवैध कच्ची शराब के कारोबारी धड़ल्ले के साथ अपने धंधे को चलाते रहते हैं । क्षेत्र में अवैध कच्ची शराब बनाने व बेचने का कारोबार वर्षों से निरंतर चला आ रहा है। जब कभी आबकारी विभाग को उच्चाधिकारियों का निर्देश मिलता है। तो वह खानापूर्ति के लिए अभियान चला देते हैं। और कुछ लोगों को पकड़ कर अपने कर्तव्य को निभाते हैं। लेकिन सबसे बड़ी समस्या यहाँ  है कि जहां ग्रामीण क्षेत्रों के पुरुष इस कारोबार में लिप्त है।


वहीं महिलाएं भी अवैध कच्ची शराब बनाने व बेचने के कारोबार से जुड़ी हुई हैं। बुद्धिजीवियों का कहना है कि इस कारोबार से महिलाओं को दूर रखने के लिए उनमें जागरूकता पैदा करनी होगी। साथ ही आबकारी महकमे के जिम्मेदारों को अपनी भूमिका का निर्वाहन ईमानदारी के साथ करना होगा। तभी अवैध कच्ची शराब के कारोबार पर कुछ हद तक अंकुश लगाया जा सकता है।