31 जनवरी से शुरू हो सकता है बजट सत्र


नई दिल्ली. 


बजट सत्र की शुरुआत 31 जनवरी से होने के आसार हैं। बजट 1 फरवरी को पेश किया जा सकता है। ऐसे में आर्थिक सर्वे 31 जनवरी को आएगा। न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से शुक्रवार को यह जानकारी दी। बजट सत्र की तारीख पर आखिरी फैसला कैबिनेट कमेटी ऑन पार्लियामेंट्री अफेयर्स (सीसीपीए) की सिफारिशों पर लिया जाएगा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाली यह कमेटी जल्द सिफारिशें दे सकती हैं। उसके बाद सरकार तारीखें नोटिफाई करेगी।


मोदी सरकार ने 1 फरवरी को बजट की परंपरा शुरू की थी


रिपोर्ट के मुताबिक बजट सत्र अप्रैल तक चल सकता है। मोदी सरकार ने फरवरी की शुरुआत में ही बजट पेश करने की परंपरा शुरू की थी। 2016 में रेल बजट को भी आम बजट में ही मर्ज कर दिया गया। मोदी सरकार से पहले बजट फरवरी के आखिर में पेश किया जाता था। इसे जल्द पेश करने के पीछे सरकार का तर्क है कि मंत्रालयों को नया वित्त वर्ष शुरू होते ही फंड मिल जाए, इससे उन्हें खर्च करने के लिए अधिक समय मिलता है। कंपनियों को भी कारोबारी और टैक्स से जुड़ी योजनाएं बनाने के लिए ज्यादा वक्त मिल जाता है।