यूपी मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक ने आज कानपूर मेट्रो के निर्माण कार्य की समीक्षा की
 


लखनऊ।

 

आई.आई.टी. कानपुर से मोती झील तक के 8.9 किलोमीटर लम्बे कानपुर मेट्रो के प्रायोरिटी कोरिडोर का निर्माण कार्य तेज़ी से चल रहा है।

 

आई.आई.टी. कानपुर मेट्रो स्टेशन के 18 पिलर तथा वाया-डक्ट के 26 पिलर के लिए पाइलिंग कार्य के साथ पूरा कर लिया गया है। प्रायोरिटी कोरिडोर के लिए पहली पाइल-कैप की कास्टिंग का कार्य भी आज पूरा कर लिया गया है।  कुमार केशव -प्रबंध निदेशक, उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल परियोजना ने अन्य मेट्रो अधिकारीयों के साथ आज कानपुर मेट्रो के निर्माण कार्य की समीक्षा की और संतोषजनक प्रगति देखने के बाद पूरी मेट्रो टीम की सराहना की।

 

अपने इस दौरे में उन्होंने कास्टिंग यार्ड का भी मोआइना किया, जहाँ यू-गर्डर को बनाने का कार्य भी शुरू हो चुका है, अतः उन्होंने मेट्रो टीम को अपनी इसी गति से कार्य करने के लिए कहा| मेट्रो के निर्माण कार्य में प्रयोग आने वाले पियर कैप्स और यू-गर्डर की कास्टिंग भी कास्टिंग यार्ड में ही होगी| कास्टिंग यार्ड को मेट्रो के निर्माण क्षेत्र के पास ही बनाया जाता है जिससे की निर्माण कार्य में लगने वाले यू-गर्डर और पियर कैप्स को आसानी से कंस्ट्रक्शन साईट तक ले जाया जा सके।

 

कुमार केशव ने अपनी संतुष्टि व्यक्त करते हुए कार्यदायी संस्थाओं को अपनी इसी गति से कार्य करने का निर्देश दिया जिससे कानपुर मेट्रो का कार्य तय समय सीमा में पूरा किया जा सके, उन्होंने कानपुर कि जनता से भी मेट्रो निर्माण की जगह और आस-पास स्वच्छता बनाए रखने कि अपील करी और 21 दिनों में हुए निर्माण कार्य की प्रगति को देख सभी का उत्साह वर्धन किया।