सीएए के विरोध में साइकिल से सदन पहुंचे सपा विधायक


लखनऊ. 


नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के विरोध में समाजवादी पार्टी के विधायक मंगलवार को साइिकल से विधानसभा पहुंचे। जिन्हें पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान अखिलेश ने भाजपा पर तुष्टिकरण का आरोप लगाया। कहा- ये नागरिकता धर्म के आधार पर देना चाहते हैं, चाहते हैं कि मुसलमानों का नागरिकता न मिले।


अखिलेश ने सवाल उठाते हुए कहा- क्या आसाम और पूर्वोत्तर के लोग इस कानून से खुश हैं? आधार में सब मौजूद है। समाजवादी पार्टी सीएए और एनआरसी और एनपीआर का विरोध करती है। भारत की अर्थव्यवस्था का नाश हो गया है। बैंकिग सिस्टम डूबा दिया, अपने लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए आप ऐसा कर रहे हैं। 


सीएम योगी के पहनावे पर अखिलेश ने भी निशाना साधा। कहा- भगवा में ऐसा क्या है, पीताम्बर रंग भी है। लेकिन देश का रंग तिरंगा ही रहेगा। जाति के आधार पर जनगणना होनी चाहिए, ताकि अबादी के आधार पर सबको अधिकार मिले। विधायक खुद जाना चाहते थे साइकिल से, आगे भी साइकिल चलेगी। 


अखिलेश ने कहा- साल का अंत हो गया है। नए साल में अपने पापों की माफी मांगे नहीं तो जनता सजा देगी आपको। पूरे यूपी की जनता जानती है कि कानून व्यवस्था इनके हाथ में नहीं हैं। निवेश नहीं आ रहा है इसलिए एनपीआर आ रहा है। निवेश नहीं आया इसलिए एनआरसी आ रहा है। हमारे देश की पहचान खराब हो रही है, देश की बदनामी हो रही है। कोई ग्लोबल निवेश नहीं आएगा।