प्रो. डॉक्टर फिरोज खान ने दिया इस्तीफा ,बीएचयू में अब नहीं पढ़ाएंगे संस्कृत


वाराणसी. 


बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में छात्रों के विरोध के बीच प्रो. डॉक्टर फिरोज खान ने संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय से इस्तीफा दे दिया है। डॉ. खान की कला और आयुर्वेद संकाय में भी नियुक्ति हुई है। इन दोनों संकायों से उन्हें जॉइनिंग लेटर दिया गया है। अब उन्हें तय करना है कि वे किस संकाय में पढ़ाएंगे। नियमों के मुताबिक,  खान को निर्णय लेने के लिए एक माह का समय दिया गया है। 


संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय में डॉ. फिरोज खान की असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर नियुक्ति हुई थी। लेकिन, एक माह से छात्र मुस्लिम प्रोफेसर की नियुक्ति का मुद्दा बनाकर आंदोलित हैं। कार्यवाहक संकाय प्रमुख कौशलेंद्र पांडेय ने बताया कि फिरोज ने कला संकाय के संस्कृत विभाग में पढ़ाने को आधार बनाकर इस्तीफा दिया है। उन्होंने सोमवार की शाम ही इस्तीफा दे दिया था। 


इस्तीफे की हुई पुष्टि, धरना खत्म
मंगलवार सुबह प्रो. खान के इस्तीफे की खबर फैली थी। हालांकि, इस बात की पुष्टि नहीं हुई थी। इस बीच आंदोलनकारी छात्रों ने कहा- जब तब उन्हें लिखित में इसकी पुष्टि नहीं मिलेगी, तब तक वह धरना जारी रखेंगे। संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय के प्रमुख ने फिरोज के इस्तीफे की पुष्टि का लेटर जारी किया तब छात्रों ने आंदोलन खत्म किया। छात्रों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया।