प्रियंका गांधी के बयान पर भड़के संत,बोले- आपको क्या मालूम भगवा वस्त्र क्या है?


अयोध्या. 


अचानक उत्तर प्रदेश की सियासत में 'भगवा' रंग चढ़ गया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के वार पर भाजपा सरकार के पलटवार के बीच मंगलवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी सवाल खड़े किए कि भगवा में ऐसा क्या है? रंग तो पीतांबर भी है। लेकिन देश का रंग तिरंगा ही रहेगा। कुछ भी हो, लेकिन अयोध्या के संत-महंत प्रियंका गांधी से खफा हो गए हैं। संतों ने उन्हें बनावटी नेता बताया और उन पर जनाधार के लिए नौटंकी करने का आरोप लगाया। 


सिर्फ बड़े घर में लिया जन्म, भगवा की जानकारी नहीं


श्रीराम जन्मभूमि केस में पक्षकार रहे महंत धर्मदास ने कहा- प्रियंका गांधी को भगवा व सनातन धर्म के विषय में जानकारी ही नहीं है। सिर्फ बड़े घर में जन्म लिया है। प्रियंका गांधी प्रदेश में जनाधार के लिए नौटंकी कर रही हैं। प्रियंका स्कूटर पर बैठ कर गईं, जो किसी बड़े नेता को शोभा नहीं देता है। महंत धर्मदास ने प्रियंका गांधी को नेता नहीं, बनावटी बताया है। महंत ने कहा प्रियंका को क्या मालूम हिंदू धर्म क्या है?  


माफी मांगें प्रियंका गांधी


हनुमानगढ़ी के पुजारी राजू दास ने कहा- भगवा पर अमर्यादित टिप्पणी के लिए प्रियंका गांधी माफी मांगे। हिन्दू जनमानस उनको माफ नहीं करेगा। भगवा पर टिप्पणी से संत समाज बेहद नाराज है। संत समाज प्रियंका के इस कथन का विरोध करता है।