पिता के 3 हत्यारोपियों पर कोर्ट रूम में गोलियां बरसाईं ,1 की मौत


बिजनौर. 


उत्तर प्रदेश के बिजनौर में सीजेएम कोर्ट में पेशी पर आए हत्या के 3 आरोपियों पर मंगलवार दोपहर शॉर्प शूटरों ने हमला बोल दिया। इसमें एक आरोपी की मौत हो गई, जबकि दो पुलिस कस्टडी से भाग गए। फायरिंग में 2 पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। पुलिस ने तीनों हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें से एक उस व्यक्ति का बेटा है, जिनकी हत्या पेशी पर आए आरोपियों ने की थी।


इसी साल 28 मई को नजीबाबाद में प्रॉपर्टी डीलर हाजी एहसान व उनके भांजे शादाब की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में बिजनौर पुलिस ने कनकपुर निवासी शूटर दानिश और दिल्ली पुलिस ने इस गैंग के सरगना शाहनवाज व शूटर अब्दुल जब्बार को पकड़ा था। मंगलवार को तीनों को सीजेएम कोर्ट में पेशी पर लाया गया था, जहां पहले से परिसर में घात लगाकर बैठे शॉर्प शूटरों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी।


गोली चलने से वहां अफरा-तफरी मच गई। गोली लगने से शाहनवाज की मौत हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, हमलावरों ने करीब 20 राउंड फायरिंग की। गोली लगने से दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल भेजा गया है। घायल सिपाही मनीष को मेरठ मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है। वहीं, फरार हत्यारोपी जब्बार व दानिश के बारे में पुलिस कुछ बोलने को तैयार नहीं है। जानकारी के अनुसार, दोनों हत्यारोपी हमले के बाद अफरी-तफरी के बीच पुलिस कस्टडी से फरार हो गए। 


एसपी संजीव त्यागी ने बताया-मृतक शहनवाज जिले का बड़ा बदमाश माना जाता था। शहनवाज, जब्बार व दानिश ने मिलकर एहसान व शादाब की हत्या की थी। शहनवाज फिलहाल दिल्ली जेल में बंद था और वहीं से मंगलवार को पेशी पर आया था। इन तीनों पर हमला करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। हमलावरों में एक की पहचान साहिल के रूप में हुई है। वह एहसान का बेटा है। जबकि दो अन्य साहिल के दोस्त हैं। सभी से पूछताछ जारी है।