पेटीएम बना एनईएफटी, आईएमपीएस, यूपीआई, वॉलेट करने वाला पहला ऐप


एनईएफटी ट्रांसफर को 24 घंटे और हफ्ते में सातों दिन की अनुमति मिलने के बाद पेटीएम एक मात्र ऐसा पेमेंट ऐप बन गया है जो 24 घंटे-सातों दिन पैसा ट्रांसफर करने के 3 तरीके  (यूपीआई, आईएमपीएस और एनईएफटी) मुहैया करा रहा है। कंपनी के अनुसार पेटीएम ऐप से एनईएफटी के जरिए हर ट्रांजैक्शन में 10 लाख रुपए तक ट्रांसफर किए जा सकेंगे। देश के फोनपे और गूगल पे जैसे अन्य पेमेंट ऐप्स प्रति ट्रांजैक्शन सिर्फ 2 लाख रुपए तक ट्रांसफर की सीमा देते हैं।


करंट अकाउंट वाले कर सकेंगे 50 लाख तक ट्रांसफर
पेटीएम पेमेंट बैंक की सेवा लेने वाले कॉरपोरेट और बिजनेसमेन (जिनका करंट अकाउंट है) वे अब किसी भी दिन किसी भी समय प्रति ट्रांजैक्शन 50 लाख रुपए का भुगतान कर सकेंगे।


पेटीएम पर मौजूद हैं सभी प्रमुख पेमेंट तरीके
पेटीएम पेमेंट बैंक के एमडी और सीईओ सतीष गुप्ता ने बताया कि पेटीएम पर पेमेंट के सभी प्रमुख तरीके मौजूद हैं और पेटीएम अकेला ऐसा प्लेटफॉर्म है, जहां यूजर्स एनईएफटी, आर्एमपीएस, यूपीआई, वॉलेट और कार्ड की मदद से पेमेंट कर सकते हैं। प्रति ट्रांजैक्शन रुपए की लिमिट बढ़ने से उम्मीद है कि अधिक से अधिक यूजर्स पेटीएम इस्तेमाल करेंगे।


हफ्ते में सातों दिन मिल रही एनईएफटी की सुविधा
6 दिसंबर से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के लिए एनईएफटी की सुविधा सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे मिलनी शुरू हो चुकी है। रिजर्व बैंक के एक बयान के मुताबिक एनईएफटी के तहत ट्रांजैक्शन अवकाश समेत हर दिन किया जा सकेगा।


क्या है NEFT?
इंटरनेट के जरिए दो लाख रुपए तक के लेन-देन के लिए एनईएफटी का इस्तेमाल किया जाता है। इसके जरिए किसी भी शाखा के किसी भी बैंक खाते से किसी भी शाखा के बैंक खाते को पैसा भेजा जा सकता है। बस इकलौती शर्त ये है कि भेजने वाले और पैसा पाने वाले, दोनों के पास इंटरनेट बैंकिंग सेवा होना जरूरी है। अगर दोनों खाते एक ही बैंक के हैं तो सामान्य स्थिति में कुछ सेकेंड्स के अंदर पैसा ट्रांसफर हो सकता है।