महिला हिंसा के बढ़ते अपराधों को लेकर पुलिस ने लिया फैसला,घर जाने के लिए टैक्सी न मिले तो सुरक्षित छोड़ेगी पुलिस


लखनऊ. 


अगर आप महिला हैं और किसी कारण आपको घर पहुंचने में देरी हो जाती है तो अब आपको घबराने की जरूरत नहीं है। पुलिस देर रात अकेले सफर कर रही महिला को उसके घर तक छोड़ेगी। इसके लिए महिला को यूपी पुलिस की 112 सेवा पर फोन कर अपनी समस्या बताना होगा। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर मदद करेगी।


उत्तर प्रदेश पुलिस ने हैदराबाद गैंगरेप व उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता को जलाए जाने की घटना से सबक लेते हुए बड़ा फैसला लिया है। इसके लिए पुलिस मुख्यालय यूपी की ओर से दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 


डीआईजी कानून-व्यवस्था विजय भूषण ने बताया- देर रात महिलाओं की सुरक्षा के लिए यूपी पुलिस प्रतिबद्ध है। इसलिए ये कदम उठाया गया है। जरूरत महसूस होने पर कोई भी महिला फोन कर इसकी सहायता ले सकती है। इस योजना को अमली जामा पहनाने के लिए डायल 112 की हर गाड़ी पर महिला कांस्टेबल की तैनाती के लिए निर्णय लिया गया है।