कपड़ा कारोबारी बुजुर्ग दंपती की गला रेतकर हत्या


लखनऊ. 


उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में गुरुवार रात कपड़ा कारोबारी 70 वर्षीय हिलाल अहमद और उनकी पत्नी 65 वर्षीय बिलकीस आरा की बदमाशों ने हत्या कर दी। छानबीन के दौरान घर का सारा सामान बिखरा मिला। परिस्थितिजन्य साक्ष्य इस बात की ओर इशारा कर रहे थे कि बुजुर्ग दंपती और बदमाशों के बीच संघर्ष हुआ। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि सआदतगंज पुलिस लूटपाट, रंजिश और अन्य बिंदुओं पर छानबीन कर रही है।  


कानपुर के रहने वाले थे


मूलत: कानपुर के रहने वाले हिलाल 50 साल से लखनऊ में सआदतगंज थाना इलाके के भोलानाथ कुआं इलाके में ख्वाजा उमम के घर में किराए पर रहते थे। गोल दरवाजा मार्केट के पास उनकी चिकन के कपड़ों की दुकान है। उनकी बेटी सहर और दामाद फरहान ऑस्ट्रेलिया में रहते हैं। 


किराएदारों को वारदात की नहीं लगी भनक


एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि, मकान में और भी किराएदार रहते हैं। शिकोह व एक अन्य किराएदार गुरुवार रात खाना खाने के बाद घर से निकल रहे थे तो देखा कि, हिलाल के घर का दरवाजा खुला है। भीतर झांककर देखा तो सभी सन्न रह गए। बेडरूम के दरवाजे के पास खून से लथपथ हिलाल का शव पड़ा था। सूचना पर घर पहुंची पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो बेडरूम में बिलकिस का भी शव मिला। 


हर ऐंगल को जांच रही पुलिस


छानबीन के दौरान घर में सारा सामान भी बिखरा मिला है। जिससे ये आशंका जताई जा रही है कि अज्ञात बदमाशों ने लूट के दौरान विरोध करने पर डबल मर्डर की वारदात को अंजाम दे फरार हुए हैं। फॉरेंसिक टीम ने साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस सामान का भी हिसाब कर रही है, ताकि साफ हो सके कि लूटपाट का ऐंगल देने के लिए ही तो सामान नहीं बिखरा दिया गया?