अंबेडकरनगर -सीएम ने 72वें कारागार का किया उद्घाटन


अंबेडकरनगर. 


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को मरैला जेल का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा- शासन की व्यवस्था कानून से ही संचालित होती है। अपराध बढ़ने पर कानून को सख्त होना होता है और उसी कानून को राज्य में स्थापित करने के लिए बेहतर पुलिसिंग का होना मुख्य है। इसमें जेल की भी भूमिका महत्वपूर्ण है। सीएम ने कहा- महिलाओं से संबंधित अपराध के मामलों को जल्दी निपटाने के लिए कैबिनेट ने 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने की मंजूरी दी है। सीएम ने सोमवार को प्रदेश के 72वें जिला कारागार का उद्घाटन किया।


जिले के मरैला में 51.7 एकड़ में नव निर्मित जिला कारागार बनाया गया है। इस जेल में 970 कैदियों को रखने की छमता है। जिसमें एक 30 कैदियों को हाई सेक्युरिटी में रखने के साथ बैरक और 24 बेड का अस्पताल भी है। 


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा- पूर्व की सरकारों में जेल अपराध संचालित करने के केंद्र बन गए थे। इसको रोकने के लिए सख्त कार्रवाई की जा रही है। जेलों को हाईटेक बनाया जा रहा है। जेल सुधार के लिए कार्य किया जा रहा है। संगीन और जघन्य करने वाले जेल में अपराधी की तरह रखे जाए, लेकिन सामान्य कैदियों के लिए जेल सुधार गृह हो। 


सीएम ने कहा- जेल के अंदर ही कैदियों को रोजगार देने की व्यवस्था की जाएगी। इसकी वजह से उनका दैनिक आय भी बढ़ेगा। जेलों में छमता से अधिक कैदी है। जेलों की भीड़ कम करने के लिए हमारी सरकार ने हाईकोर्ट से बातचीत कर धरना प्रदर्शन धारा 188 से जुड़े 20 हजार मुकदमें को समाप्त किया। सीएम ने कहा- अपराध के लिए जाने जाना वाला जेवर (नोएडा) में एशिया का सबसे बड़ा एयर पोर्ट बनने जा रहा है। इससे मूलभूत सुविधाओं से महरूम जेवर में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।