संदिग्ध परिस्थितियों से मकान में लगी आग ,दो बच्चियों की जिंदा जलकर मौत हो


फतेहपुर. 


मलवां थाने के चितौरा गांव में एक मकान में संदिग्ध परिस्थितियों में आग लगने से दो बच्चियों की जिंदा जलकर मौत हो गई। दोनों आपस में चचेरी बहने थीं। इस हादसे में पूरी गृहस्थी जलकर राख हो गई, वहीं दो मवेशी भी जलकर मरे हैं। ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया है। एसडीएम व पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पड़ताल की है। 


चितौरा गांव निवासी राजरानी व परिवार के अन्य सदस्य रविवार सुबह खेतों में धान काटने गए थे। राजरानी के पति ननका की दो साल पहले मौत हो चुकी है। घर पर चार साल की बेटी रजनी व उसकी चचेरी बहन छह साल की श्वेता थी। दोनों घर के अंदर खेल रही थीं। इसी बीच छप्पर में आग लग गई। आग की लपटें तेज होने से दोनों बच्चियां कमरे में फंस गईं। लोगों ने आग पर काबू पाते हुए बच्चियों को बाहर निकाला। लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। 


ग्रामीणों के अनुसार, आग इतनी विकराल थी कि जबतक उस पर काबू पाया जाता तबतक सबकुछ जलकर राख हो गया। आग लगने से घर में बंधी दो बकरियां भी जिंदा जल गयीं। घटना की सूचना पर एसपी प्रशांत वर्मा, एसडीम आशीष कुमार सिंह, सीओ कापिल देव मिश्रा भी गांव पहुंचे। अधिकारियों का कहना है कि पीड़ित परिवार को जिला प्रशासन द्वारा आर्थिक सहायता भी उपलब्ध करवाया जाएगा।