ढांचा विध्वंस की तारीख 6 दिसंबर तक अयोध्या में सुरक्षा दायरा सख्त ,सतर्कता बरतने के निर्देश

अयोध्या



ढांचा विध्वंस की तारीख 6 दिसंबर तक अयोध्या में सुरक्षा दायरा सख्त रखा जाएगा। साल 1992 में 6 दिसंबर के दिन ही विवादित ढांचे को गिराया गया था। हालांकि अयोध्या में माहौल सामान्य है फिर भी सुरक्षा में लगी फोर्स अभी तैनात रहेगी। एसपी सिटी विजय पाल सिंह के मुताबिक सुरक्षा को रेड, यलो, ग्रीन व ब्लू जोन में बांटा गया है। सीसीटीवी से निगरानी की जा रही है।

एसएसपी आशीष तिवारी ने बताया कि अभी तक 6 दिसंबर को मंदिर-मस्जिद से जुड़े हिंदू और मुस्लिम संगठन शौर्य दिवस व यौम-ए-गम के तौर पर मनाते रहे हैं। ऐसे में ऐहतियातन सुरक्षा में कोई ढील नहीं दी जाएगी। बता दें कि अयोध्या में रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद केस में फैसला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने विवादित जमीन को रामलला का बताया था।


कोर्ट ने मुस्लिमों को 5 एकड़ की वैकल्पिक जमीन देने का फैसला भी सुनाया। सुप्रीम कोर्ट के 5 जजों की संविधान पीठ ने सर्वसम्मति यानी 5-0 से अयोध्‍या पर ऐतिहासिक फैसला सुनाया है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की रिपोर्ट को आधार मानते हुए यह भी कहा कि अयोध्या में मस्जिद किसी खाली स्थान पर नहीं बनाई गई थी।