CRPF खरीदेगी लेवल-4 की बुलेट प्रूफ गाड़ियां , 58 लोगों को दे रही है वीआईपी सुरक्षा


नई दिल्ली 


केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) अपने आपको अपग्रेड करने में जुट गई है. इस समय सीआरपीएफ के पास गांधी परिवार यानी सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा की सुरक्षा के साथ-साथ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उनकी पत्नी की भी सुरक्षा है. इन सभी वीआईपी सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ अभी एसपीजी की बुलेटप्रूफ गाड़ियों का इस्तेमाल गृह मंत्रालय की संस्तुति पर कर रही है.


सूत्रों ने आजतक को जानकारी दी है कि सीआरपीएफ जल्द ही लेवल-4 की बुलेट प्रूफ गाड़ियां खरीदने जा रही है, जिसके लिए प्रक्रिया शुरू भी हो चुकी है. बता दें, सीआरपीएफ इस समय 58 लोगों को वीआईपी सुरक्षा दे रही है, जिसमें से हाल ही में एसपीजी से आए 5 प्रोटेक्टी शामिल है. इसके लिए सीआरपीएफ की 4 बटालियन देशभर के 30 महत्वपूर्ण जगहों पर सेंटर बनाकर तैनात किए गए हैं. सीआरपीएफ की एक बटालियन में सात कंपनियां शामिल होती हैं जिसमें करीब 7000 जवान होते हैं.


सीआरपीएफ जल्द ही लेवल-4 की बुलेट प्रूफ गाड़ियां खरीदने जा रही है, जिसके लिए प्रक्रिया शुरू भी हो चुकी है. बता दें, सीआरपीएफ इस समय 58 लोगों को वीआईपी सुरक्षा दे रही है, जिसमें से हाल ही में एसपीजी से आए 5 प्रोटेक्टी शामिल है. इसके लिए सीआरपीएफ की 4 बटालियन देशभर के 30 महत्वपूर्ण जगहों पर सेंटर बनाकर तैनात किए गए हैं. सीआरपीएफ की एक बटालियन में सात कंपनियां शामिल होती हैं जिसमें करीब 7000 जवान होते हैं.


सीआरपीएफ अभी जो एसपीजी की गाड़ियों का इस्तेमाल गांधी परिवार के लिए कर रही है, उसके साथ-साथ घर की भी सुरक्षा में जो भी टेक्निकल गैजेट्स लगे हुए हैं, उनका भी इस्तेमाल सीआरपीएफ करेगी. जानकारी के मुताबिक, सीआरपीएफ सीसीटीवी कैमरा के साथ-साथ घर में लगे आधुनिक टेक्निकल गैजेट का इस्तेमाल करेगी.


एसपीजी और एनसीजी से आए जवान ही कर रहे हैं सुरक्षा


इसके साथ ही सीआरपीएफ में मौजूद 39 से 40 फीसदी जवान, जो वीआईपी सुरक्षा में लगे हुए हैं, वह एसपीजी से ही वापस आए हुए हैं. यह वह जवान होते हैं जो कि एसपीजी में अपना डेपुटेशन का कार्यकाल पूरा करके सीआरपीएफ में आए हैं. इसके अलावा 35 फीसदी कमांडो ऐसे हैं जो एनएसजी में अपना वीआईपी सुरक्षा का कार्यकाल पूरा करके सीआरपीएफ के मूल कैडर में वापस आ गए हैं. यही अब वीआईपी सुरक्षा में लगे हुए हैं.


विदेश नहीं जाएगी सीआरपीएफ


गांधी परिवार को जेड प्लस सुरक्षा सीआरपीएफ की तरफ से दी जा रही है. सीआरपीएफ का विदेश जाने का कोई मैंडेट नहीं है. एसपीजी में विदेश जाकर भी सुरक्षा करने का मैंडेट था. दूसरे शब्दों में कह सकते हैं कि राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और सोनिया गांधी के साथ सीआरपीएफ अब विदेशों में नहीं जाएगी. सीआरपीएफ सिर्फ एयरपोर्ट तक वीआईपी को सुरक्षा देगी.