छेड़खानी से तंग नाबालिग लड़की ने केरोसिन छिड़ककर खुद को आग लगाई


कन्नौज. 


जिले में छेड़खानी से तंग आकर नाबालिग लड़की ने खुद पर केरोसिन छिड़ककर आग लगा ली। गंभीर हालत में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालत गंभीर होने पर हैलट अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया, जहां बाद में इलाज के दौरान मौत हो गई। परिजन ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं। किशोरी की मौत के बाद प्रशासन ने आनन-फानन आरोपी युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।  


कन्नौज सदर कोतवाली क्षेत्र के निवासी रणवीर की 15 वर्षीय नावालिग बेटी को गांव का ही एक युवक असनी कई दिनों से छेड़खानी कर परेशान कर रहा था। कई बार उसने युवक के  परिवार के लोगों से शिकायत की, लेकिन कुछ भी नहीं हुआ। परिजनों ने इसकी शिकायत पुलिस से भी की थी। जिस पर पुलिस ने भी कोई ध्यान नहीं दिया।


18 नवंबर को हुई घटना


18 नवंबर को लड़की के घर वाले जब खेत पर गए हुए थे, तभी युवक अश्वनी ने घर पहुंचकर लड़की से छेड़खानी करना शुरू कर दिया। इससे आहत होकर लड़की ने कमरे में रखा तेल खुद पर डालकर आग लगा ली।  


26 नवंबर को हुई पीड़िता की मौत


इस दौरान मरने से पहले मृतका ने गांव के ही रहने वाले युवक असनी पर छेड़खानी का आरोप लगाते हुए अपना बयान दर्ज कराया। जिसके बाद करीब एक सप्ताह जिंदगी और मौत के बीच 26 नवंबर को किशोरी ने इलाज के दौरान कानपुर के हैलट में अपना दम तोड़ दिया। मामले में मृतका के परिजन पुलिस पर समय से कार्यवाही न करने का बड़ा आरोप लगा रहे हैं। उनका कहना है कि यदि समय पर कार्यवाही की जाती तो आज उनकी बेटी जिन्दा होती।


पूरे मामले में पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह का कहना है कि 24 नवम्बर को परिजनों की तरफ से तहरीर दी गई थी जिस पर कार्यवाही करते हुए आरोपी युवक को जेल भेज दिया गया है। आरोपी युवक भी नाबालिग है।  किशोरी की मौत हो जाने के बाद धाराएं बधाई जाएगी। वही मामले में अगर पुलिस की लापरवाही का मामला होगा तो जांच कराकर दोषियों पर कार्यवाही की जाएगी।